Saturday, May 28, 2022

Buy now

जानिए क्रिकेट के लंबे सफर में सचिन तेंडुलकर ने बनाए कौन से बड़े रिकॉर्ड

तारीख आज की ही थी। यानी 24 अप्रैल। और साल था 1973 का। इस दिन एक ऐसे क्रिकेटर का जन्म हुआ जिसने बहुत छोटी सी उम्र में वह मुकाम हासिल कर लिया जो बहुत कम लोगों को हासिल होता है। सचिन रमेश तेंडुलकर। एक क्रिकेटर जिसने बेशुमार रेकॉर्ड बनाए। जिसने बल्ले से ऐसी पटकथा लिखी जो मिसाल बन गई। पर सचिन तेंडुलकर सिर्फ रेकॉर्ड का ही नाम नहीं है। सचिन नाम है एक इमोशन का। एक ऐसी शख्सियत का जिसने इस देश में क्रिकेट को नए मुकाम पर पहुंचाने में मदद की। जिसे देखकर एक पीढ़ी ने प्रेरणा हासिल की। जिसके बारे में कहा गया कि वह क्रिकेट का भगवान है। और इस भगवान का सफर बचपन से ही शुरू हो गया था।

On this day in 2012, Sachin Tendulkar scored his 100th international ton |  Cricket News - Times of India

12 साल की उम्र में उन्होंने अंडर-17 हैरिस शील्ड में अपने स्कूल के लिए शतक लगा दिया। जब वह 14 साल के हुए तो अपने दोस्त विनोद कांबली के साथ मिलकर 664 रन की रेकॉर्ड साझेदारी कर दी।

15 साल की उम्र में मुंबई के लिए फर्स्ट क्लास डेब्यू किया और अगले ही साल वह भारतीय टीम का हिस्सा थे। 1989 में पाकिस्तान के खिलाफ कराची में उन्होंने अपना पहला टेस्ट मैच खेला। 17 साल की उम्र में उन्होंने इंग्लैंड के ओल्ड ट्रैफर्ड मैदान पर अपना पहला टेस्ट शतक लगाया। वह भारत की ओर से टेस्ट क्रिकेट में सबसे युवा शतकवीर बने।

पर सचिन की कहानी कम उम्र में रेकॉर्ड बनाने या बल्ले से कमाल करने भर की नहीं है। वह सिर्फ उस कहानी का एक अध्याय है। सचिन की कहानी उससे आगे जाने की है। युवावस्था में सचिन ने जो हासिल किया वह उनके लंबे करियर की बानगी भर है। तेंडुलकर ने अपनी युवावस्था में जो दिखाया उसे आगे जाकर और बढ़ाया। साल 2000 में वह अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में 50 सेंचुरी लगाने वाले पहले क्रिकेटर बने। 2003 में उन्होंने वर्ल्ड कप में 673 रन बनाए। एक वर्ल्ड में यह सबसे ज्यादा रन का रेकॉर्ड है।

साल 2008 में उन्होंने ब्रायन लारा को पीछे छोड़ा और टेस्ट क्रिकेट में सबसे ज्यादा रन बनाने वाले बल्लेबाज बने। 36 साल की उम्र में उन्होंने वनडे क्रिकेट में दोहरा शतक लगाया। पुरुष क्रिकेट में वह दोहरा शतक लगाने वाले पहले क्रिकेटर बने।

उनके नाम टेस्ट और वनडे- दोनों में सबसे ज्यादा रन और सेंचुरी बनाने का रेकॉर्ड है। वह अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में 100 शतक लगाने वाले इकलौते क्रिकेटर हैं। साल 2013 में उन्होंने अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट से मुंबई के वानखेड़े मैदान पर संन्यास लिया।

Related Articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Stay Connected

0FansLike
3,333FollowersFollow
0SubscribersSubscribe
- Advertisement -spot_img

Latest Articles