Saturday, May 28, 2022

Buy now

राज्‍य सभा के जरिए संसद में दाखिल होंगी प्रियंका गांधी? कांग्रेस ने बनाया ये ‘प्‍लान’

पांच राज्यों के विधान सभा चुनाव के लिए वोटिंग की प्रक्रिया खत्म हो चुकी है. इस दौरान कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा ने प्रचार की कमान संभाल रखी थी. चुनाव में मेहनत को देखते हुए कांग्रेस अब उनको राज्य सभा भेजने पर विचार कर रही है.
नई दिल्लीः एग्जिट पोल की अटकलों के बीच कांग्रेस की महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा को राज्य सभा के जरिए संसद भेजने पर विचार किया जा रहा है. कांग्रेस के एक वर्ग का मानना है कि प्रियंका गांधी को उत्तर प्रदेश और अन्य राज्यों में उनके व्यापक अभियान के बाद संसद में भेजा जाना चाहिए, ताकि सदन और बाहर मोदी सरकार का मुकाबला किया जा सके.

चुनाव में बनीं मुख्य प्रचारक
इसके पहले पार्टी, उन्हें उस समय राज्य सभा भेजने पर विचार कर रही थी, जब अहमद पटेल जीवित थे और छत्तीसगढ़ में 2 सीट थीं, लेकिन यह तय किया गया कि भाजपा द्वारा भाई-भतीजावाद के आरोपों को देखते हुए यह सही समय नहीं है. प्रियंका ने राज्य में व्यस्त अभियान का प्रबंधन करने के बाद, वह पार्टी के मुख्य प्रचारक के रूप में उभरी हैं. हालांकि, अगर एक्जिट पोल पर जाएं, तो उत्तर प्रदेश में परिणाम उनके लिए उत्साहजनक नहीं हैं.
मोदी सरकार से कर सकती हैं मुकाबला
पार्टी में उनके समर्थकों का मानना है कि उन्हें सदन में भेजने का यह सही समय है, क्योंकि आम चुनाव अब से 2 साल बाद हैं और वह सरकार का मुकाबला कर सकती हैं. केरल, पंजाब और अन्य राज्यों के लिए राज्य सभा चुनाव की घोषणा कर दी गई है. अगर पार्टी पंजाब में अच्छा प्रदर्शन करती है, तो वह उन्हें राज्य से भेज सकती है. राजस्थान और छत्तीसगढ़ में भी रिक्तियां होने जा रही हैं, उन्हें इन दोनों राज्यों में से किसी एक से राज्य सभा भेजा जा सकता है. सूत्रों ने बताया कि भूपेश बघेल प्रियंका को सीट देने पर विचार कर रहे हैं.

चर्चा में रहा प्रियंका का अभियान
पिछली बार जब प्रस्ताव पेश किया गया था, तो कुछ मुद्दों के कारण इसे ठुकरा दिया गया था, क्योंकि कुछ लोगों ने सोचा था कि पार्टी में 2 सत्ता केंद्र होंगे. उत्तर प्रदेश में उन्होंने 167 रैलियों को संबोधित किया, 42 रोड शो किए और वर्चुअल रैलियां भी की हैं. उत्तर प्रदेश में पार्टी की प्रभारी होने के नाते राज्य में उनका बहुत ऊंचा दांव है और 2022 के विधानसभा चुनाव में उनका अभियान चर्चा में रहा है. प्रियंका की मेहनत, उनकी ऊर्जा और सकारात्मकता से भरे अभियानों ने राज्य के लोगों का ध्यान खींचा है.

सभी राज्यों का किया दौरा
कांग्रेस के अंदरूनी सूत्रों का कहना है कि उनके नारों ने जनता के दिलों में जगह बना ली है और भारी बारिश में उनके अभियान बाराबंकी में खेतों में काम करने वाली महिलाओं सहित लोगों से मिलना जनता के साथ अच्छा रहा है. प्रियंका ने पंजाब, गोवा, उत्तराखंड और मणिपुर में भी प्रचार किया.

42 किए रोड शो
42 रोड शो और डोर-टू-डोर अभियानों के माध्यम से प्रियंका ने चुनाव प्रचार के दौरान जनता के साथ बातचीत की और 3 पंजाब, 2 उत्तराखंड और गोवा और मणिपुर में 1-1 आभासी रैली सहित राज्यों का दौरा किया. पार्टी नेताओं ने कहा कि चुनाव प्रचार के दौरान प्रियंका को अपने भाषणों में लगातार यह कहते हुए देखा गया कि लोकतंत्र में सत्ता लोगों के हाथ में होती है. उन्होंने लोगों से अपने वोट की ताकत को पहचानने और मुद्दों पर वोट करने का आह्वान किया.

Related Articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Stay Connected

0FansLike
3,333FollowersFollow
0SubscribersSubscribe
- Advertisement -spot_img

Latest Articles