Saturday, May 28, 2022

Buy now

‘शायद आप मुझे आखिरी बार जिंदा देख रहे हैं’, जानें जेलेंस्की को क्यों देना पड़ा ऐसा बयान

Russia Ukraine War: जेलेंस्की ने रविवार को एक वीडियो संदेश में कहा कि ‘दुनिया हमारे हवाई क्षेत्र को बंद करने के मामले में काफी मजबूत है.’ नाटो देशों ने उड़ान-निषिद्ध क्षेत्र बनाने से इनकार कर दिया है.
Russia Ukraine War: रूस लगातार यूक्रेन पर घातक हमले कर रहा है. यूक्रेन पर जारी रूसी हमलों के बीच राष्ट्रपति वोलोदिमिर जेलेंस्की की भावुक अपील ने सभी को चौंका दिया है. उन्होंने ये अपील अमेरिका से की है. आइ्ए आपको बताते हैं आखिरकार जेलेंस्की ने अमेरिका से क्या अपील की है.

राष्ट्रपति जेलेंस्की की भावुक अपील
यूक्रेन के लिए जी-जान से लड़ रहे राष्ट्रपति वोलोदिमिर जेलेंस्की ने अमेरिका से और अधिक लड़ाकू विमान भेजने की अपील की है. साथ ही रूस से तेल आयात में कटौती करने को भी कहा है. जेलेंस्की ने रविवार को अमेरिकी सांसदों से लंबी बातचीत की. उन्होंने वीडियो कॉल में कहा कि संभव है कि वे (अमेरिकी सांसद) उन्हें आखिरी बार जिंदा देख रहे हों.
जेलेंस्की की अपील नहीं मान रहा NATO
जेलेंस्की ने जोर देकर कहा कि यूक्रेन को अपनी हवाई सीमा की सुरक्षा करना बेहद आवश्यक है. यह या तो उत्तर अटलांटिक संधि संगठन (नाटो) द्वारा उड़ान वर्जित क्षेत्र लागू करने से या अधिक लड़ाकू विमानों के भेजे जाने से ही संभव हो सकेगा. जेलेंस्की कई दिनों से उड़ान वर्जित क्षेत्र घोषित करने की मांग करते आ रहे हैं. वहीं, जेलेंस्की इस अपील को नाटो खारिज करता आ रहा है.. नाटो का मानना है कि यह कदम रूस के साथ जंग में आग में घी का काम करेगा.

अमेरिकी सांसदों के साथ जेलेंस्की की लंबी बातचीत
जेलेंस्की ने करीब एक घंटे तक अमेरिका के 300 सांसदों और उनके स्टाफ से बातचीत की. यह बातचीत ऐसे समय में हुई है जब यूक्रेन के शहरों पर रूसी बमबारी जारी है और कई शहरों को उन्होंने घेर लिया है जबकि 14 लाख यूक्रेनियों ने पड़ोसी देशों में शरण ली है. बता दें कि यूक्रेन के राष्ट्रपति जेलेंस्की इस वक्त राजधानी कीव में ही डटे हुए हैं और सेना की कमान संभाल रहे हैं. बता दें कि कीव के उत्तर में रूसी सेना की बख्तरबंद टुकड़ियां डेरा जमाए हुए हैं.

हथियारों से यूक्रेन की मदद, सैनिकों से नहीं
यूक्रेन के राष्ट्रपति वोलोदिमीर जेलेंस्की अन्य देशों से यूक्रेन को उड़ान-निषिद्ध क्षेत्र लागू करने के अपने आह्वान पर जोर दे रहे हैं. एक उड़ान-निषिद्ध क्षेत्र बनाने से सीधे विदेशी सेनाओं को शामिल करने से संघर्ष बढ़ने का जोखिम होगा. यद्यपि अमेरिका और कई पश्चिमी देशों ने हथियारों की खेप के साथ यूक्रेन का समर्थन किया है, लेकिन उन्होंने सैनिक नहीं भेजे हैं.

जेलेंस्की ने जारी किया वीडियो संदेश
जेलेंस्की ने रविवार को एक वीडियो संदेश में कहा कि ‘दुनिया हमारे हवाई क्षेत्र को बंद करने के मामले में काफी मजबूत है.’ नाटो देशों ने उड़ान-निषिद्ध क्षेत्र बनाने से इनकार कर दिया है. यदि उड़ान-निषिद्ध क्षेत्र की घोषणा हो जाती है तो यह सभी अनधिकृत विमानों को यूक्रेन के ऊपर उड़ान भरने से रोक देगा. रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन ने शनिवार को कहा कि मास्को यूक्रेन पर किसी भी तीसरे पक्ष द्वारा उड़ान-निषिद्ध क्षेत्र बनाने की घोषणा को ‘सशस्त्र संघर्ष में भागीदारी’ मानेगा.

Related Articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Stay Connected

0FansLike
3,333FollowersFollow
0SubscribersSubscribe
- Advertisement -spot_img

Latest Articles